चंचल वन में जलेबी दौड़-निधि चौधरी

चंचल वन में जलेबी दौड़       चंचल वन में जलेबी दौड़ का आयोजन किया गया। राजा शेर सिंह ने सबको कबूतर काका द्वारा यह संदेश भिजवाया। सभी जानवरों… चंचल वन में जलेबी दौड़-निधि चौधरीRead more

Spread the love

हिंदी को यथायोग्य सम्मान मिलना चाहिए-रूचिका राय

हिंदी को यथायोग्य सम्मान मिलना चाहिए                हिंदी भाषा सहज, सरल व स्पष्ट होते हुए भी आज अपने बचा्व के लिए संघर्षरत है। हिंदी… हिंदी को यथायोग्य सम्मान मिलना चाहिए-रूचिका रायRead more

Spread the love

हिंदी का संछिप्त इतिहास-धर्मेन्द्र कुमार ठाकुर

हिंदी का संछिप्त इतिहास           हिंदी भाषा संस्कृत, प्राकृत, पालि, अपभ्रंश से होती हुई विकसित हुई। हिंदी के प्रारंभिक रूप में हमें अपभ्रंश के अधिकांश शब्द… हिंदी का संछिप्त इतिहास-धर्मेन्द्र कुमार ठाकुरRead more

Spread the love

हिन्दी दिवस-प्रियंका दुबे

हिन्दी दिवस           मानव जाति श्रेष्ठता की उपाधि से अलंकृत हो स्वयं को अन्य जीवों की श्रेणी में सर्वोपरि मानता है। अभिव्यक्ति की क्षमता मनुष्य को… हिन्दी दिवस-प्रियंका दुबेRead more

Spread the love

झिझक-कुमारी निरुपमा

झिझक           सोनम आज बहुत अच्छी तरह से वर्ड को याद किया। गत दिन जब मनोरमा मैडम कल्पना चावला के बारे में पढ़ाया तभी से उसके… झिझक-कुमारी निरुपमाRead more

Spread the love

गरीबी से द्वंद करती मेहनत-श्री विमल कुमार “विनोद” 

गरीबी से द्वंद करती मेहनत            एक गरीब व्यक्ति जिसके माता-पिता एक गरीब परिवार से आते हैं। एक निम्नवर्गीय माधो जो एक अत्यन्त गरीब किसान था।… गरीबी से द्वंद करती मेहनत-श्री विमल कुमार “विनोद” Read more

Spread the love

हिन्दी दिवस-हर्ष नारायण दास

हिन्दी दिवस           भारत विविधताओं का देश है जहाँ अलग-अलग जाति, लिंग, पंथ, धर्म के लोग रहते हैं। इनके खान-पान, परम्परा, रहन-सहन रीति-रिवाज एवं भाषा एक-दूसरे… हिन्दी दिवस-हर्ष नारायण दासRead more

Spread the love

गुरु का महत्व-लवली कुमारी

गुरु का महत्व           आज कक्षा में काफी चहल-पहल थी। नए शिक्षक (मुरली मनोहर) सर जो आए थे। कक्षा के चार-पांच बच्चे कुछ बदमाश थे जिन्हें… गुरु का महत्व-लवली कुमारीRead more

Spread the love

भगवान हर समय ऑनलाइन हैं-कुमकुम कुमारी ‘काव्याकृति’

भगवान हर समय ऑनलाइन हैं           अक्सर देखा जाता है कि जब हमारे घर किसी के आने की सूचना मिलती है चाहे वह व्यक्ति बहुत खास… भगवान हर समय ऑनलाइन हैं-कुमकुम कुमारी ‘काव्याकृति’Read more

Spread the love