April 2021 - गद्य गुँजन

श्री रामचंद्र जी का अवतरण-सुमोना घोष

श्री रामचंद्र जी का अवतरण           कौशल नरेश की पुत्री कौशल्या भगवान विष्णु की अनन्य भक्त थी। वे सदैव भगवान विष्णु की पूजा आराधना में लीन… श्री रामचंद्र जी का अवतरण-सुमोना घोषRead more

Spread the love

बेबसी-रुचि सिन्हा

बेबसी           जब भी चैत्र-वैसाख का महीना आता, बरबस ही मुझे स्मरण हो आती है कक्षा VIII की छात्रा प्रिया की। चार बहनों में सबसे छोटी… बेबसी-रुचि सिन्हाRead more

Spread the love

टेसी थॉमस-कुमकुम कुमारी

टेसी थॉमस           प्राचीन काल में पुरूषों के साथ बराबरी की स्थिति से लेकर मध्ययुगीन काल के निम्न स्तरीय जीवन और साथ ही कई सुधारकों द्वारा… टेसी थॉमस-कुमकुम कुमारीRead more

Spread the love

मैं ज्यादा सुंदर हूं-प्रियंका कुमारी

मैं ज्यादा सुंदर हूं                 आयुष अपने पिता के साथ पहली कक्षा में नामांकन के लिए आया था। बड़े-बड़े बाल और खूबसूरत नैन-नक्श के… मैं ज्यादा सुंदर हूं-प्रियंका कुमारीRead more

Spread the love

बाल कविताएँ-निधि चौधरी

बाल कविताएँ           मैं बचपन से ही बाल कविताएं लिखती हूँ ठीक से याद नहीं पर शायद पाँचवी या छठी कक्षा में मेरी पहली बाल कविता… बाल कविताएँ-निधि चौधरीRead more

Spread the love

बिरजू-लवली कुमारी

बिरजू           बिरजू के क्लास में आते ही बच्चे शोर मचाना शुरू कर दिए। झूठा-झूठा, चोर-चोर! अरे यह क्याा, क्यों शोर मचा रखे हो क्लास में… बिरजू-लवली कुमारीRead more

Spread the love

माखन लाल चतुर्वेदी-हर्ष नारायण दास

माखन लाल चतुर्वेदी            भारत की मिट्टी ने एक ऐसा तपः पूत रचा जो आत्मा से गाँधी था, आस्था में क्रान्ति, गति में कर्म था और… माखन लाल चतुर्वेदी-हर्ष नारायण दासRead more

Spread the love

लालच का फल-डॉ संजय कुमार निराला

लालच का फल           सम्भू जैन बिहार के ‘सुपौल’ नामक शहर में एक मेडिकल स्टोर चलाते थे। उन्होंने अपने जीवन का एक पृष्ठ खोलकर सुनाया जो… लालच का फल-डॉ संजय कुमार निरालाRead more

Spread the love