September 2020 - गद्य गुँजन

सकारात्मकता एक शक्ति है-मधुमिता

सकारात्मकता एक शक्ति है           सकारात्मक विचार हमारे शरीर के अंदर एक ऐसी ऊर्जा का संचार करती है, जो हमें किसी भी परिस्थिति का सामना करने… सकारात्मकता एक शक्ति है-मधुमिताRead more

Spread the love

अमर शहीद भगत सिंह-हर्ष नारायण दास

अमर शहीद भगतसिंह           दासता की श्रृंखला में आबद्ध भारत माता को बन्धन मुक्त कराने के आत्मोत्सर्ग कर देने वाले हुतात्माओं की श्रेणी में महत्वपूर्ण स्थान… अमर शहीद भगत सिंह-हर्ष नारायण दासRead more

Spread the love

परिश्रम का फल-भवानंद सिंह

परिश्रम का फल            किसी गाँव में एक बूढ़ा और गरीब किसान रहता था। गरीब इतना कि किसी को भी दया आ जाय लेकिन वह किसान… परिश्रम का फल-भवानंद सिंहRead more

Spread the love

राष्ट्रकवि रामधारी सिंह “दिनकर”-हर्ष नारायण दास

राष्ट्रकवि रामधारीसिंह “दिनकर”           दिनकर जी का जन्म बेगूसराय जिला के गाँव सिमरिया में काश्त कार बाबू रवि सिंह के घर दूसरे बेटे के रूप में… राष्ट्रकवि रामधारी सिंह “दिनकर”-हर्ष नारायण दासRead more

Spread the love

देशभक्ति-मनोज कुमार

देशभक्ति           मास्टर दीनानाथ पंडित यूं तो गाँव के सरकारी विद्यालय से कई वर्ष पूर्व सेवानिवृत हो चुके थे लेकिन उनका मानना था कि एक अध्यापक… देशभक्ति-मनोज कुमारRead more

Spread the love

अहंकार-रीना कुमारी

अहंकार           मनुष्य के आनंदमय जीवन में काले बादल की तरह छा जाने वाली कोई चीज है तो वह, है “अहंकार”। अहंकार एक ऐसा शत्रु है… अहंकार-रीना कुमारीRead more

Spread the love

दायित्वबोध-जैनेन्द्र प्रसाद रवि

दायित्वबोध                     मध्याह्न भोजन के पश्चात बच्चे खेलने में व्यस्त थे। शिक्षक- शिक्षिकाएँ भी आपसी बातचीत में मशगूल थे, तभी सप्तम… दायित्वबोध-जैनेन्द्र प्रसाद रविRead more

Spread the love

बेटी के जबाव से मिली सीख-नूतन कुमारी

बेटी के जबाव से मिली सीख            पिता पुत्री के संबंधों पर एक क्वीज प्रतियोगिता चल रही थी। बहुत सारे पिता और पुत्रियाँ बैठी हुई थी।… बेटी के जबाव से मिली सीख-नूतन कुमारीRead more

Spread the love

एकाग्रता की महत्ता-देव कांत मिश्र

एकाग्रता की महत्ता            संस्कृत के प्रसिद्ध विद्वान प्रोफेसर पाल डायसन के निमंत्रण पर स्वामी विवेकानंद स्विट्जरलैंड से जर्मनी गए हुए थे। दोनों आपस में विचार… एकाग्रता की महत्ता-देव कांत मिश्रRead more

Spread the love

दुलारी-विजय सिंह नीलकण्ठ

दुलारी           बहुत समय पहले की बात है, किसी गाँव में धनिकलाल नामक एक बकरी पालक रहता था जो बकरियों का पालन पोषण कर अपना समय… दुलारी-विजय सिंह नीलकण्ठRead more

Spread the love